इस तरीके से करनी चाहिए ऑनलाइन शॉपिंग कभी नुकसान नहीं होगा

ऑनलाइन शॉपिंग का चलन बढ़ता जा रहा है, लेकिन इसके चलते कई बार हमें कुछ दिक्कतों का सामना भी करना पड़ जाता है। हमारे साथ ऐसा बहुत बार होता है कि हम कौन सा प्रोडक्ट यूज करें जो हमारे लिए अच्छा रहेगा या फिर हम यह कैसे पता करें कि यह प्रोडक्ट अच्छा है और हमारे लिए काफी उपयोगी रहेगा। या फिर बहुत बार हम इस स्थिति में भी रह जाते हैं कि कौन सी वेबसाइट से हम ऑनलाइन शॉपिंग करें जिससे हमें सस्ते प्रोडक्ट्स मिल पाए। आज की इस पोस्ट में हम यही बातें जानेंगे कि हम कौन सी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट उसे शॉपिंग करें और कैसे पता करें कि कौन सा प्रोडक्ट हमारे लिए अच्छा है और किस वेबसाइट पर सस्ता रहेगा।
दोस्तों कई बार ऐसा भी होता है कि हम जो प्रोडक्ट खरीदने वाले होते हैं वह प्रोडक्ट ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट पर महंगा होता है और लोकल मार्केट में सस्ता होता है इन सब बातों को जानने के लिए हम कुछ ट्रिक्स अपना सकते हैं।

किस ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट से शॉपिंग करें

दोस्तों कई बार हम यह डिसाइड नहीं कर पाते कि हमें कौन सी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट से शॉपिंग करनी चाहिए, इसके लिए सबसे अच्छा उपाय यही है कि हम ऐसी वेबसाइट ऐसे ही शॉपिंग करें जो बहुत ज्यादा पॉपुलर हो जैसे कि अमेज़न, फ्लिपकार्ट, Snapdeal, Paytm इन सब वेबसाइटों से शॉपिंग करेंगे तो हमें बिल्कुल भी डरने की जरूरत नहीं कि हमारे साथ कुछ गलत हो जाएगा।
मुख्यतः अमेजॉन और फ्लिपकार्ट ही बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग की वेबसाइट है और 80 परसेंट शॉपिंग इन ही दोनों वेबसाइट ऑफ से ही की जाती है।

ऑनलाइन साइटों से सामान खरीदते वक्त किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए

दोस्तों ऑनलाइन साइटों से शॉपिंग करते वक्त हमें काफी बातों का ध्यान रखना होता है जैसे की सबसे पहले तो हमें यह देखना होता है कि कौन सी वेबसाइट पर हमें हमारा सेम प्रोडक्ट कितने रुपए में मिल रहा है यदि वही प्रोडक्ट हमें अलग-अलग रेट में मिलता है तो हम उसी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट से खरीदेंगे जिसमें हमें सस्ता प्रोडक्ट मिल रहा होता है।
सस्ते प्रोडक्ट के बाद हमें ध्यान रखना होता है कि हम जो प्रोडक्ट खरीद रहे हैं उसकी रेटिंग किस ऑनलाइन वेबसाइट पर अच्छी है, रेटिंग वही लोग देते हैं जो वह सामान खरीद चुके होते हैं ऐसे में आप के लिए यह पहचानना बहुत आसान हो जाता है कि वह प्रोडक्ट केसा है।
रेटिंग के साथ साथ हमें सेलर का भी ध्यान रखना होता है की सैलर को कितनी रेटिंग मिली है , क्योंकि अमेज़न और फ्लिपकार्ट पर कोई भी व्यक्ति उनकी टर्म्स एंड कंडीशन को फॉलो करके अपने प्रोडक्ट को बेच सकता है या फिर अमेज़न का सैलर बन सकता है इसलिए यह विशेषकर ध्यान में रखना जरुरी है की सैलर को कितनी रेटिंग मिली है, अगर सैलर को 5 में से 4 से ऊपर रेटिंग मिली है तो तो वह एक अच्छा और ट्रस्टेड सेलर माना जाता है।

ऑनलाइन शॉपिंग करते समय पेमेंट किस माध्यम से करना चाहिए

दोस्तों माना कि अगर हम ऑनलाइन पेमेंट करेंगे तो हमें काफी कैशबैक मिलने की चांस रहते है और हमें इसमें काफी फायदा भी हो जाता है लेकिन अगर देखा जाए तो ऑनलाइन शॉपिंग में हमें पेमेंट कैश ऑन डिलीवरी की सेलेक्ट करना चाहिए क्योंकि अगर कोई दिक्कत होती है या फिर आपका प्रोडक्ट थोड़ा लेट हो जाता है अगर कोई दिक्कत होती है या फिर आपका प्रोडक्ट थोड़ा लेट हो जाता है या फिर आपको आपका प्रोडक्ट पसंद नहीं आता और आप उसे कैंसिल करना चाहते हैं तो उस स्थिति में अगर आप पहले ही पेमेंट कर दोगे तो आपका पेमेंट आपके बैंक अकाउंट में वापस आने में काफी समय लग जाता है अगर देखा जाए तो इस पूरे प्रोसेस में आपको अपना पेमेंट वापस आने में 1 से 2 महीने लग जाते हैं यह सब ऑनलाइन शॉपिंग साइट ऊपर डिपेंड करता है कि वह आपका पेमेंट आपको कब रिफंड करते हैं इसलिए जब भी आप ऑनलाइन शॉपिंग करो तो जहां तक हो सके कैश ऑन डिलीवरी की सेलेक्ट करो।

ऑनलाइन शॉपिंग के प्रोडक्ट्स को ओपन करने का सही तरीका क्या है

दोस्तों आप जब भी ऑनलाइन शॉपिंग करो और आपका प्रोडक्ट आपके घर पर आ जाए और आप उसे ओपन करने वाले हो तब यह विशेषकर ध्यान रखना कि जब भी आप उसे ओपन कर रहे हो तो उसको कैमरे के सामने ही ओपन करें यह काम आप अपने मोबाइल से आसानी से कर सकते हो। कैमरे के सामने ओपन करने से होगा यह है कि अगर आप का प्रोडक्ट गलती से खराब आता है या फिर आपका प्रोडक्ट आपको मिलता ही नहीं तो उस स्थिति में आपके पास एक प्रूफ रहता है कि हमें हमारा प्रोडक्ट मिला ही नहीं या फिर हमारा प्रोडक्ट टूटा हुआ था जिसके चलते अगर आप अमेज़न या फिर Flipkart या फिर जो भी कोई ऑनलाइन शॉपिंग साइट है उसे रिफंड के लिए आवेदन करते हैं तो आपका रिफरेंस आपको बहुत ही जल्दी मिलने की पूरी पूरी संभावना रहेगी।
और अगर आप अपने प्रोडक्ट को कैमरे के सामने ओपन नहीं करोगे तो आपके पास ऐसा कोई प्रूफ नहीं रहेगा जिससे यह पता चल पाए कि आपका प्रोडक्ट खराब या फिर उसके अंदर प्रोडक्ट नहीं आया तब इस स्थिति में आप का रिफंड मिलने में आपको बहुत ज्यादा टाइम लगेगा क्योंकि वह ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स पूरी इंक्वायरी करेगी कि सच मे प्रोडक्ट गलत या फिर खराब आया है या आप ऑनलाइन साइटों को बेवकूफ बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *