ईएमआई क्या है? EMI की फूल फॉर्म और गणना सूत्र क्या होता है

बैंक से लोन लेने या फिर किस्तों पर कुछ समान खरीदने पर रुपए का भुगतान छोटे छोटे टुकड़ों मे करना होता है क्योंकि एक साथ पूरा भुगतान नहीं किया जा सकता, इसलिए ग्राहक बैंक या किसी संस्था से लोन लेता है। यहा आप ईएमआई क्या होती है? ईएमआई की गणना किस प्रकार की जाती है इनके बारे मे जानोगे। 

EMI Kya Hai

जब आप बैंक से किसी भी प्रकार का लोन लेते है तो बैंक उस लोन की राशि को वापस EMI के माध्यम से लेती है, केवल बैंक की नहीं आजकल ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट पर भी किसी सामान को EMI पर खरीदने का ऑप्शन मिलता है इसलिए ईएमआई क्या है और ये किस तरह से ली जाती है वर्तमान में यह जानना जरूरी हो गया है। 

ईएमआई क्या है? 

EMI की फूल फॉर्म Equated Monthly Installment होती है जिसे हिन्दी भाषा मे समान मासिक किस्त कहते है, जैसा की इसके नाम से ही स्पष्ट है की हर महीने एक निर्धारित राशि लेन्डर यानि की लोन देने वाले को देनी पड़ती है, ये राशि महीने की किसी निर्धारित तारिक को चेक या Online Payment करके भुगतान कि जाती है। 

बैंक से लोन लेने के अलावा भी ईएमआई का कई जगह पर इस्तेमाल किया जाता है, आजकल आप छोटे से छोटे समान को भी ईएमआई पर खरीद सकते है मोबाईल इसका सबसे बड़ा उदाहरण है, Online और ऑफलाइन मार्केट मे EMI पर मोबाईल बहुत से लोग खरीदने लगे है।


EMI को प्रभावित करने वाले कारक

किसी बैंक या संस्था द्वारा लिए गए लोन पर आपको कितनी ईएमआई भरनी पड़ेगी ये इसके कारकों पर निर्भर करता है जैसे की आप लोन किस संस्था या बैंक से ले रहे है, आपका सीबील क्रेडिट स्कोर क्या है आदि लेकिन मुख्य रूप से केवल 3 कारक ईएमआई को प्रभावित करते है। 

लोन की राशि – ये वो पैसा होता है जो आप बैंक या किसी संस्था से लोन के रूप मे लेते हो, जितना ज्यादा ये राशि होगी आपकी EMI भी उतनी ही ज्यादा होगी। 

ब्याज दर – आपके लोन पर कितने प्रतिशत ब्याज लगेगा ये कारक आपकी ईएमआई को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है क्योंकि जितनी ज्यादा ब्याज दर होगी उतना ही पैसा आपको मूलधन से ज्यादा देना पड़ेगा। आपको लोन देने वाला बैंक या संस्था ब्याज दर को कई तरह से निश्चित करता है जैसे की आपकी क्रेडिट हिस्ट्री, आपकी सैलरी, भुगतान वापिस करने की क्षमता और मार्केट की स्थिति। 

समय – ईएमआई को प्रभावित करने वाला ये तीसरा सबसे महत्वपूर्ण कारक है जिसमे ये तय किया जाता है की आप बैंक या संस्था से लिया गया लोन कितने महीने या साल मे भुगतान करेंगे। ये समय जितना ज्यादा होगा आपकी ईएमआई उतनी ही छोटी होगी लेकिन समय के बढ़ने से आपको ब्याज दर ज्यादा देनी पड़ेगी। 


ईएमआई गणना सूत्र:- 

बैंक या संस्था द्वारा दिए गए लोन का भुगतान EMI (समान मासिक किस्त) के द्वारा किया जाता है जिसमे एक निर्धारित राशि किसी निर्धारित तारिक को बैंक को देनी होती है, लोन लेने से पहले हर महीने कितनी ईएमआई भरनी है इसका पता होने से आइडिया लग जाता है की कितना लोन लेना चाहिए। 

ईएमआई निकालने के लिए आपको 3 तत्वों की जरूरत पड़ती है जिसमे पहला लोन की राशि, दूसरा ब्याज दर और तीसरा समय है, समय को हम अंग्रेजी मे Tenor भी बोलते है। 

ईएमआई गणना सूत्र:-

आपको ये फार्मूला दिखने मे मुश्किल लग सकता है लेकिन यहा दी गई टर्म को समझने के बाद आपको ये आसानी से समझ आ जाएगा, इस सूत्र मे E का मतलब है ईएमआई जो की हमे निकालनी है, P का मतलब है Principal Amount यानि की मूल राशि, R का मतलब है Rate of Interest यानि की ब्याज दर और N का मतलब है समय। 

  • E – ईएमआई
  • P – लोन की धनराशि
  • R – ब्याज दर 
  • N – लोन कितने समय के लिए लिया गया है

उदाहरण के लिए प्रदीप मोबाईल खरीदने के लिए 10,000 रुपए का लोन किसी बैंक से लेता है, बैंक ये लोन प्रदीप को 12% ब्याज दर पर 6 महीनों के लिए देता है यो प्रदीप को अगले 6 महीनों तक 1725 रुपए बैंक को, लोन का पूरा भुगतान करने के लिए चुकाने पड़ेंगे। 

हालांकि ईएमआई गणना सूत्र से EMI निकालने मे काफी समय लगता है और यकीन मानिए बहुत ही कम लोग इस सूत्र से ईएमआई निकालने मे सक्षम होंगे क्योंकि इसमे गणित की जटिल गणना करनी पड़ती है और गलती होना भी संभव है। 

ईएमआई की गणना करने के लिए आप किसी EMI Calculator टूल का इस्तेमाल कर सकते हैं जहा आपको कुछ ही सेकंड मे ईएमआई के बारे मे पता चल जाता है, ये टूल Online उपलब्ध है आपको केवल EMI Calculator लिखकर सर्च करना है। 


EMI Calculator

ये डिजिटल Calculator होते है जिसमे ईएमआई निकालने का गणना सूत्र पहले से ही सेट किया हुआ होता है इस टूल कि मदद से आप केवल कुछ ही सेकंड मे अपनी ईएमआई निकाल सकते है, यहा आपको लोन की राशि, ब्याज दर और समय लिखना होता है जिसके बाद टूल आपको हर महीने या साल की ईएमआई बता देता है। 

यहा आपको कुछ अच्छे ईएमआई गणना टूल के बारे मे बताया गया है आप क्लिक करके उनका इस्तेमाल कर सकते है। 

  1. EMICalculator.Net
  2. Groww EMI Calculator
  3. Home Loan EMI Calculator

Debit Card पर EMI कैसे ले

आजकल कुछ बड़े बैंक जैसे की HDFC, SBI, ICICI आदि आपको डेबिट कार्ड पर भी ईएमआई का ऑप्शन देते है जिसका इस्तेमाल आप Online शॉपिंग वेबसाइट पर कुछ सामान खरीदने के लिए कर सकते है, हालांकि सभी उत्पादो पर आपको डेबिट कार्ड ईएमआई का ऑप्शन नहीं मिलता। 

डेबिट कार्ड पर ईएमआई का फीचर केवल कुछ ही ग्राहकों को मिलता है और ये बैंक का अपना फैसला होता है की आपको डेबिट कार्ड पर EMI का ऑप्शन दे या ना दे। ज्यादातर ये देखा गया है की बैंक आपकी ख़रीददारी का इतिहास देखकर आपको Debit Card EMI का ऑप्शन देता है। 

यदि आप ऑनलाइन बहुत सारा समान खरीदते है और उसका पेमेंट भी Online एक ही डेबिट कार्ड से करते है तो बैंक आपको ये ऑप्शन दे सकता है। आपके पास डेबिट कार्ड EMI का ऑप्शन है या नहीं ये चेक करने के लिए आप अपने HDFC Bank नेट बैंकिंग मे Offers का सेक्शन चेक करे।

आपके डेबिट या एटीएम कार्ड पर EMI का ऑप्शन उपलब्ध है या नहीं इसे जानने के लिए आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाईल नंबर से एक मैसेज करना होता है, ये मैसेज सभी Banks का अलग अलग होता है। नीचे आपको कुछ बैंक के बारे मे बताया गया है। 

  • HDFC Bank – Type MYHDFC Send to 5676712
  • SBI – Type DCEMI Send to 567676
  • ICICI Bank – Type DCEMI डेबिट कार्ड के अंतिम 4 अंक Send to 5676766

डेबिट कार्ड पर EMI का ऑप्शन अभी केवल कुछ ही बैंक उपलब्ध करवा रहे है आप अपने बैंक के बारे मे सर्च करके जान सकते है की आपका बैंक ये सेवा देता है या नहीं। इस बात का भी ध्यान रखे की ये सेवा केवल कुछ ही कस्टमर को मिलती है। 


सारांश

इस ब्लॉग पोस्ट मे आपने जाना की ईएमआई क्या होती है, इसके कारक क्या है और ईएमआई निकालने का गणना सूत्र क्या है, EMI का सीधा सा मतलब होता है समान मासिक किस्त जो की हर महीने एक जैसी रहती है तो एक निर्धारित समय पर ही भरनी होती है।

आप अपने सवाल कमेन्ट करके पूछ सकते है इसके अलावा यदि आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर शेयर करके हमे सपोर्ट करे। 

आपके काम की अन्य पोस्ट:-

मुझे इंटरनेट टेक्नोलॉजी के बारे में जानने और इसे लोगो के साथ शेयर करना अच्छा लगता है, मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हु। इसके अलावा मुझे अच्छी किताबें पढ़ने और लोगों को ऑब्ज़र्व करना भी अच्छा लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here