Dell कहां की कंपनी है व इसका मालिक कौन है

लैपटॉप और कंप्यूटर का इस्तेमाल तो अब आम बात हो गई है, आजकल बैठ के किए जाने वाले लगभग सभी काम मे कंप्यूटर की जरूरत पड़ती है, एक ऐसा भी टाइम था जब कंप्यूटर का इस्तेमाल केवल कुछ गिने चुने लोग ही करते थे। Dell कंपनी को भारत मे अच्छे उत्पाद बनाने की वजह से जाना जाता है। 

dell ke bare me

इस ब्लॉग पोस्ट मे आप यही जानोगे की डेल कंपनी किस देश की है व इसका मालिक कौन है, डेल कंपनी की शुरुआत भी काफी रोचक तरीके से हुई थी व इसे बनाने वाले इंसान बचपन से ही आम लोगों के काफी अलग थे। 

Dell कहा की कंपनी है? 

डेल अमेरिका की एक बहु राष्ट्रीय कंप्यूटर टेक्नॉलजी कंपनी है जो कंप्यूटर बनाने, बेचने व रिपेर करने का काम करती है, डेल कंपनी दुनिया मे सबसे बड़ी टेक्नॉलजी कंपनीयो मे से एक है, कंपनी के साथ पूरी दुनिया मे 2019 तक 165,000 कर्मचारी काम कर रहे है। डेल कंपनी का मुख्यालय टेक्सास अमेरिका मे है। 

डेल कंप्यूटर व लैपटॉप के साथ साथ सर्वर, डाटा स्टॉरिज, कैमरा, प्रिंटर आदि भी बनाती है, डेल कंपनी को 2014 तक फॉर्चून 500 कंपनी की लिस्ट मे भी शामिल किया गया था जिसमे इसका नंबर 51वा था। Dell कंपनी की स्थापना 1 फरवरी 1984 को माइकल डेल द्वारा की गई थी। 

माइकल डेल ने अपनी कॉलेज की पाड़ाई को बीच मे छोड़ कर इस कंपनी की शुरुआत की थी , शुरुआती दिनों मे कंपनी का नाम PC’s Limited रखा गया था जिसे बाद मे डेल कंप्यूटर Corporation रख दिया गया। 


Dell का मालिक कौन है? 

Michael Dell (डेल के फाउन्डर)

डेल कंपनी के मालिक माइकल डेल है जिन्होंने ने 1 फरवरी 1984 मे इसे  शुरू किया था, माइकल डेल अमरीका के निवासी है और इन्होंने वही रहकर इस कंपनी की निव रखी थी। माइकल डेल का जन्म 23 फरवरी 1965 को ह्यूस्टन टेक्सास मे हुआ। Michael Dell वर्तमान मे कंपनी के सीईओ भी है। 

माइकल डेल के पिता एक डॉक्टर थे व माता की स्टॉक ब्रोकर, ये दोनों ही चाहते थे की माइकल डेल एक अच्छे डॉक्टर बने इसलिए माइकल को biology की पढ़ाई करने के लिए यूनिवर्सिटी भेज दिया लेकिन माइकल का इस फील्ड मे बिल्कुल भी मन नहीं था इसलिए इन्होंने कॉलेज छोड़ने का फैसला लिया। 

माइकल ने बचपन से ही अपनी मम्मी से इनवेस्टमेंट के बारे मे सीखते आ रहे थे इसी वजह से इन्होंने पैसे इन्वेस्ट करना शुरू किया, जब इन्हे पैसों से पैसे कमाने का फंडा समझ आ गया तो ज्यादा पैसे इन्वेस्ट करने के लिए माइकल ने कुछ छोटे मोटे काम करना शुरू किया। 

जब 15 साल की उम्र मे माइकल को कंप्यूटर खरीद के दिया गया तो इन्होंने ये समझने के लिए की कंप्यूटर काम कैसे करता है और इसमे किस तरह के पार्ट लगे है पूरे कंप्यूटर को खोल दिया और सभी पार्ट्स को अलग अलग कर दिया, इसके बाद माइकल ने कुछ और कंप्यूटर भी खरीदे और उनके साथ भी ऐसा ही किया। 

धीरे धीरे माइकल की रुचि कंप्यूटर मे और ज्यादा बढ़ती गई और उन्हे अलग अलग कंपनीयो के कंप्यूटर पार्ट खरीदकर कंप्यूटर बनाना शुरू कर दिया, ये कंप्यूटर एक ही कंपनी के पार्ट्स के बने कंप्यूटर से कीमत मे काफी कम था। 


सारांश

यहा आपने जाना की डेल अमेरिका की कंपनी है जो भारत के साथ साथ कई अन्य देशों मे अपनी सेवाएँ देती है, डेल कंपनी को माइकल डेल मे 1984 मे बनाया था, कंपनी का नाम पहले PC’s Limited था, कंपनी की थोड़ी ग्रोथ होने के बाद इसे डेल कंप्यूटर मे बदल दिया गया। 

आपके काम की अन्य पोस्ट:

मुझे इंटरनेट टेक्नोलॉजी के बारे में जानने और इसे लोगो के साथ शेयर करना अच्छा लगता है, मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हु। इसके अलावा मुझे अच्छी किताबें पढ़ने और लोगों को ऑब्ज़र्व करना भी अच्छा लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here