🧑‍💻MS Word क्या है; कैसे चलाए; विशेषताएं व उपयोगिता (सम्पूर्ण जानकारी) 

आज के ज़माने में कंप्यूटर के बारे में सभी को थोड़ा बहूत जानकारी तो ज़रूर होगी, कंप्यूटर का उपयोग करके हम किसी भी तरह के डॉक्यूमेंट को टाइपिंग, एडिटिंग, और अच्छे से फॉर्मेटिंग कर सकते है, सिर्फ यही नहीं जरूरत के हिसाब से उस निर्धारित डॉक्यूमेंट को हम प्रिंट भी कर सकते है। इन सभी कार्य को संपन्न करने के लिए कंप्यूटर में एक लोकप्रिय एप्लिकेशन अर्थात, Microsoft Office का इस्तेमाल किया जाता है। 

MS Word Kya Hai

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस के द्वारा बनाया गया एक सॉफ्टवेयर का नाम है Word इसे शॉर्ट में MS Word कहेते है। MS Word के बारे में तो आपने ज़रूर शूना होगा। आज के इस पोस्ट पर हम MS Word के विषय में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले है। यदि आप MS Word Kya Hai; MS Word के विशेषताएं व उपयोग के बारे में नहीं जानते है तब यह पोस्ट आप सभी के लिए बहूत उपयोगी होने वाला है।

MS Word क्या है?

Word Processing का कार्य करने के लिए बर्तमान में बहूत सारा वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर आ गया है, उसी में से एक वर्ड प्रोसेसर सॉफ्टवेयर का नाम है MS Word अर्थात, Microsoft Word। यह एक लोकप्रिय Text Editor सॉफ्टवेयर है इसके सहायता से किसी भी टेक्स्ट को एडिटिंग, फॉर्मेटिंग किया जा सकता है। 

सबसे पहले, अमेरिका के Microsoft कंपनी ने Microsoft Office का आविष्कार किया। फिर, सन 1983 में Microsoft ने इसका पहेला वर्जन Multi Tool Bar रिलीज किया जो Bravo के framework के उपर आधारित था। उसके बाद, Multi Tool Bar का नाम परिवर्तन करके MS Word हो गया।

तब, सन 1983 के 25 अक्टूबर को माइक्रोसॉफ्ट ने word का पहेला संस्करण Word 1.0 लॉन्च किया। फिर धीरे धीरे वर्तमान समय में वर्ड के बहुत सारा नया नया वर्जन भी आविष्कार हुआ जैसे Word 2004, 2007, 2008, 2011, 2013, 2016 आदि। 

MS Word की विशेषताएं

अब तक इस पोस्ट पर आपने MS Word क्या है के विषय में पढ़ा है। अब सवाल आता है कि MS Word की क्या विशेषताएं है इसके उत्तर में बता दें कि MS Word के बहूत सारे विशेषताएं है जिस कारण MS Word सबसे ज़्यादा उपयोग होने वाला सॉफ्टवेयर है। इन सभी विशेषताएं के बारे में हमने नीचे बताया है।

  1. File creation और Text editing

MS Word में टेक्स्ट को टाइप करके डॉक्यूमेंट व फाइल क्रिएट किया जाता है। और, टाइप किया हुआ टेक्स्ट में यदि कोई गलती हो जाए तब उसे आसानी से एडिट भी किया जा सकता है जैसे, यदि टेक्स्ट में टाइपिंग मिस्टेक रहे तब उसे करेक्शन, गलत लाइन को डिलीट किया जा सकता है। 

  1. File formatting और Saving

वर्ड में क्रिएट किया गया फाइल के तथ्य को मॉडिफाई किया जा सकता है अर्थात, यूजर जरूरत के हिसाब से वर्ड पर उपलब्ध सभी फीचर्स के सहायता से निर्धारित फाइल में परिवर्तन करके उसे और भी आकर्षित रूप से फॉर्मेट कर सकते है। यहां अलग अलग फाइल को एक ही डॉक्यूमेंट में सेव करके भी रखा जा सकता है।

  1. Symbol का प्रयोग

एमएस वर्ड में बहूत तरह का सिंबल का प्रयोग किया जाता है जैसे, √ का प्रयोग math के टर्म root को समझाने के लिए किया जाता है, ✓ का प्रयोग करके किसी भी पॉइंट व मुख्य बिंदु को दर्शाया जाता है, 🎶 Symbol का प्रयोग करके संगीत के पंक्तियां को समझाया जाता है आदि, एमएस वर्ड में ऐसे बहूत सारे सिंबल का प्रयोग किया जा सकता है।

  1. Indentation 

वर्ड का एक फीचर है इंडेंटेशन जो, पेज की बीच और चारों तरफ उपयुक्त मार्जिन अर्थात, गैप को नियंत्रण यानि कम, ज़्यादा करने में सहायता करता है। 

  1. Table का प्रयोग

एमएस वर्ड में टेबल का प्रयोग करके भी फाइल तैयार किया जा सकता है। यहां किसी भी तथ्य को टेबल के आकार में Row और Column में बांट के अच्छे से प्रेजेंट किया जा सकता है। इसके जरिए जैसे क्लास रूटीन, मार्कशीट, रिपोर्ट आदि रेडी किया जाता है।

  1. गलत स्पेलिंग की चैकिंग और रिप्लेस

किसी भी डॉक्यूमेंट में अगर कोई भी स्पेलिंग गलत हो जाए तब उसे चैक करके करेक्शन कि प्रक्रिया एमएस वर्ड का एक महत्वपूर्ण विशेषता है। सिर्फ यही नहीं वर्ड पर तथ्य में प्रयोग किया हुआ किसी निर्धारित शब्द का खोंज करके उस शब्द का परिवर्तन किया जा सकता है। अर्थात, उस निर्धारित शब्द को रिप्लेस करके वहां अन्य उपयुक्त शब्द को भी जोड़ा जा सकता है। 

  1. Comprehensive Dictionary की उपलब्धि

एमएस वर्ड में एक कॉम्प्रिहेंसिव डिक्शनरी उपलब्ध रहेता है। जहां एक शब्द का बहूत सारा अर्थ हमे पड़ने को मिल जाता है। इसीलिए डॉक्यूमेंट तैयार करते वक़्त यदि कोई शब्द का मतलब यूजर को समझ में ना आए तब वह इस डिक्शनरी से निर्धारित शब्द का मतलब समझ सकता है। यह MS Word का एक बहुत महत्वपूर्ण विशेषता है।

  1. Shapes व graphics

वर्ड सॉफ्टवेयर में यूजर आसानी से चित्र बना सकते है। यहां चित्र बनाने के लिए विभिन्न shape यानि आकार मौजूद रहेता है। जैसे, बृत्त, बर्ग, आयताकार आदि जिसका प्रयोग करके यूजर डॉक्यूमेंट में निर्धारित Shape को जोड़ सकते है। 

  1. Scroll Bar 

वर्ड में दोनों प्रकार का स्क्रॉल बार रहेता है, Horizontal Scroll Bar और Vertical Scroll Bar। Horizontal Scroll Bar पेज को दाएं और बाएं मूव करने में सहायता करता है। यह स्क्रॉल बार स्टेटस बार के उपर रहेता है। और, Vertical Scroll Bar पेज को उपर, नीचे मूव करने में सहायता करता है। यह स्क्रॉल बार हमे पेज की दाएं तरफ देखने को मिल जाती है।

  1. नंबरिंग और बुलेट का प्रयोग

फाइल में तथ्य को क्रम के अनुसार अच्छे से लिखने के लिए नंबरिंग और बुलेट फीचर्स का इस्तेमाल किया जाता है। यहां नंबरिंग फीचर के ज़रिए संख्या यानि 1,2,3, रोमान संख्या यानि i, ii, iii आदि के क्रम के अनुसार तथ्य को लिखा जा सकता है। या फिर दूसरी तरफ, बुलेट फीचर के जरिए विभिन्न तरह के चिन्ह यानी •, ✓ आदि के अनुसार तथ्य को लिखा जा सकता है। 

  1. Mail Merge की सुविधा

मेल मर्ज MS Word का एक अलग ही विशेषता है। इस फीचर के ज़रिए यूजर एमएस वर्ड में टाइप किया हुआ किसी भी लेटर अनेक व्यक्ति को भेज सकता है।

  1. ऑब्जेक्ट को जोड़ना

MS Word में एक तथ्य के साथ आसानी से दूसरे तथ्य व डॉक्यूमेंट, फाइल को जोड़ा जा सकता है। अर्थात, एक फाइल के साथ दूसरे फाइल को लिंक किया जा सकता है। MS Word में मौजूद इस फीचर को Object Linking कहेते है। 


MS Word के उपयोग

MS Word एक बहूत उपयोगी सॉफ्टवेयर है। इसका उपयोग करके जैसे स्कूल का नोट्स तैयार किया जा सकता है, वैसे ऑफिशियल कार्य के लिए भी MS Word का इस्तेमाल किया जाता है, जिस कारण यह सभी यूजर के लिए बहूत उपयोगी है। तो चलिए MS Word के उपयोगिता के बारे में जान लेते है –

  1. MS Word एक Graphical User Interface यानिकि GUI based user friendly सॉफ्टवेयर है। जिस कारण, यूजर MS Word को आसानी से सीख सकते है, और इस सॉफ्टवेयर का उपयोग कर सकते है।
  1. MS Word एक knowledge base सॉफ्टवेयर है, अगर इस सॉफ्टवेयर का उपयोग करने में यूजर को कोई दिक्कत हो तब, वह वेबसाइट के माध्यम से भी Word का उपयोग करना सीख सकते है।

मगर, इस सॉफ्टवेयर में एक Built In Support रहेता है जो, ट्यूटोरियल्स के जरिए यूजर को MS Word से संबधित सभी समस्या का हल समझा सकता है। और, यह MS Word का एक महत्वपू्ण उपयोगिता है।

  1. अगर, आप इंग्लिश स्पेलिंग लिखने में गलती करते है। तब एमएस वर्ड में डॉक्यूमेंट तैयार करना आप के लिए सुरक्षित और फायदेमंद है क्यों कि, एमएस वर्ड प्रत्येक गलत स्पेलिंग के नीचे red mark कर देता है जिससे, आपको पता चल जाता है कि कोनसा स्पेलिंग गलत हुआ है। और, वहां राइट क्लिक करने से आपको सही स्पेलिंग का पता चलता है तब आप उसे आसानी से सही कर सकते है।
  1. वर्ड पर आप अगर इंग्लिश लैंग्वेज के आलावा अन्य भाषा में काम करना चाहते है, तब आप लैंग्वेज सेटिंग्स में जाके आसानी से अपनी पसंद का भाषा सेलेक्ट करके उस भाषा में कार्य कर सकते है। अर्थात, एमएस वर्ड के तहत किसी भी भाषा में कार्य किया जा सकता है। 
  1. यहां बहूत सारा फॉर्मेटिंग टूल, Wizard, template आदि उपलब्ध रहेता है, इसके सहायता से आप अपने डॉक्यूमेंट को और भी आकर्षित बना सकते है।
  1. वर्ड यूजर को Mail Merge की सुविधा प्रदान करती है। 
  1. एमएस वर्ड में आप HTML का उपयोग कर सकते है। अर्थात, यहां आप किसी डॉक्यूमेंट को HTML फॉर्मेट में सेव कर सकते है, hyperlink इंटरफेस की सहायता से दूसरे पेज को लिंक कर सकते है।
  1. आप अगर, कोई भी डॉक्यूमेंट तैयार कर रहे है वहां एक निर्धारित शेप की ज़रूरत है, तब आप उस डॉक्यूमेंट में निर्धारित शेप को 3D shape का रूप दे सकते है। 
  1. एमएस वर्ड का उपयोग एजुकेशन क्षेत्र में भी किया जाता है। सिर्फ यही नहीं इसका उपयोग करके आप Resume तैयार कर सकते है जो आपको जॉब ढूंढने में सहायता करता है।
  1. आप यदि एमएस वर्ड पर अच्छे से काम करना जानते है तब जॉब की दुनिया में आपको बहूत सारे क्षेत्र में काम करने की ऑपर्च्युनिटी मिल जाएगी। 

MS Word के Home Screen पर उपलब्ध Button के नाम

MS Word के home screen पर उपलब्ध सभी बटन के बारे में हमने नीचे बताया है।

1) Title Bar

Word विंडो के सबसे उपर जहां Document1 Microsoft Word लिखा रहेता है, उसे Title Bar बोलते है। इस बार के दाएं तरफ तीनों कंट्रोल बटन रहेता है Minimize, Maximize, और Close बटन।

2) Quick Access ToolBar

एमएस वर्ड के सबसे महत्वपूर्ण टूलबार का नाम है क्विक एक्सेस टूलबार। यह टूलबार टाइटल बार के बाएं तरफ रहेता है। यहां Save, New, Open, Undo, Redo जैसे ज़रूरी बटन हमे देखने को मिलता है।  

3) Office Button

Window के उपर बाएं तरफ एक बड़ा सा घेरा हुआ बटन रहेता है उसे ही ऑफिस बटन बोलते है। वर्ड में इस बटन के आधार पर ही सभी कार्य किया जाता है जैसे डॉक्यूमेंट तैयार करना, save करना, प्रिंट करना आदि।

4) Ribbon

वर्ड में Menu bar और Toolbar के समायोजन में गठित बार व Tab का नाम है Ribbon। 

5) Ruler Bar

Ruler Bar दोनों प्रकार का होता है Horizontal और Vertical Ruler। विंडो रिबन के नीचे की तरफ Horizontal Ruler रहेता है और, बाएं तरफ Vertical Ruler रहेता है। 

6) Scroll Bar

ज़्यादातर समय बोहुत बड़ा बड़ा डॉक्यूमेंट में काम करना पड़ता है तब, ज़रूरत के हिसाब से डॉक्यूमेंट को मूव करने के लिए स्क्रॉल बार का उपयोग किया जाता है। विंडो के दाएं तरफ vertical scroll bar रहेता है और, स्क्रीन के नीचे की तरफ हमे horizontal scroll bar देखने को मिलता है। 

7) Status Bar

विंडो के सबसे नीचे में स्थित बार को ही Status  Bar कहेते है। यहां word count, zoom slider, page number आदि देखने को मिलते है।


MS Word कैसे चलाते है

MS Word के विशेषताएं, उपयोगिता, और वर्ड के होम स्क्रीन के विषय में जानकारी प्राप्त करने के बाद, अब चलिए जान लेते है MS Word कैसे चलाते है। एमएस वर्ड को चलाने के लिए या फिर उस पर काम करने के लिए नीचे बताए गए नियमों का पालन करना होगा।

1) MS Word को स्टार्ट करने की प्रक्रिया 

सबसे पहले, बता दें यदि आपके डिवाइस में एमएस वर्ड इंस्टॉल नहीं है तब आपको उसे इंस्टॉल करके वहां अपने Email Id देकर Login कर लेना होगा। इसके बाद, आप नीचे बताए गए प्रक्रिया का पालन करके वर्ड को शुरू कर सकते है। 

और, यदि आपके डिवाइस में वर्ड पहेले से ही इंस्टॉल्ड है तब आप डायरेक्ट नीचे बताए गए प्रक्रिया का पालन करके एमएस वर्ड को शुरू कर सकते है

  • सबसे पहले, Start button में क्लिक करना है।
  • फिर, स्टार्ट बटन के programs में क्लिक करने के बाद, वहां से प्राप्त लिस्ट में से Microsoft Office में क्लिक करना है और इसके बाद, Microsoft Office Word में क्लिक करके वर्ड को शुरू करना होगा।। 

और, यदि आपके डेस्कटॉप में एमएस वर्ड का कोई आइकन उपलब्ध है तब आप उस आइकन पर क्लिक करके भी वर्ड को ओपन व शुरू कर सकते है। 

2) Document create करना

  • पहले, office button में क्लिक करें।
  • ऑफिस बटन में क्लिक करने के बाद, प्राप्त drop down menu में से New ऑप्शन में क्लिक करना होगा। इससे स्क्रीन में New Document डायलॉग बॉक्स आयेगा।  
  • डायलॉग बॉक्स के Template option में से blank and recent में क्लिक करके blank document आइकन को सेलेक्ट करना होगा।
  • Blank document icon पर क्लिक करने के बाद, create बटन में क्लिक करने से एक नया document  तैयार हो जाएगा। यहां आपको एक सफेद जगह देखने को मिलेगी जहां आपको टेक्स्ट टाइप करके डॉक्यूमेंट तैयार करना है।

3) Document को Save करना

डॉक्यूमेंट क्रिएट करने के बाद उसे सेव करना ज़रूरी है।

  • पहले, office button में क्लिक करके वहां से प्राप्त लिस्ट में से save व save as में क्लिक करना होगा। 
  • इसके बाद, स्क्रीन में एक डायलॉग बॉक्स प्रदर्शित होगा। उस डायलॉग बॉक्स के file name टेक्स्ट बॉक्स में file के नाम को लिख कर यानि आप जिस नाम से file को save करना चाहते है उसे लिखना होगा। 
  • फिर, टेक्स्ट बॉक्स के नीचे दाएं तरफ दिया हुआ save बटन पर क्लिक करके डॉक्यूमेंट को सेव करना होगा।

4) Text को Edit करना

Editing का अर्थ है डॉक्यूमेंट में लिखे हुए टेक्स्ट को सेलक्ट करना, कॉपी, पेस्ट करना, नया टेक्स्ट को एड करना, टेक्स्ट डिलीट करना आदि।

मान लीजिए, आप एक लाइन को कॉपी पेस्ट करना चाहते है। इसके लिए आपको सामान्य कुछ प्रक्रिया का पालन करना होगा। जैसे,

  • पहले, आपको निर्धारित टेक्स्ट में कर्सर प्रेस करके टेक्स्ट को सेलेक्ट कर लेना होगा।
  • फिर, Home ribbon के clipboard command group में जा के copy बटन में क्लिक करना होगा। या फिर, आप टेक्स्ट को कॉपी करने के shortcut key का प्रयोग कर सकते है जिसके बारे में हमने नीचे shortcut key बिंदु में बोला हे।
  • अब उस clipboard command group के paste button में क्लिक करने से कॉपी किया हुआ टेक्स्ट paste हो जाएगा। 

5) Document में Heading insert करना

अगर, आप डॉक्यूमेंट में Header यानि Heading एड करना चाहते है तब, 

  • पहले आपको Insert ribbon के header & footer command group के Header Button में क्लिक करना होगा।
  • Header button में क्लिक करने से एक pre built header list प्रदर्शित होगा जिस में से आपको किसी एक header को सेलेक्ट करना होगा।
  • इसके बाद, Header में आप अपने निर्धारित टेक्स्ट को लिख कर हेडिंग तैयार कर सकते है।

6) Text Formatting करना

Document में टेक्स्ट को आकर्षित रूप से तैयार करने का नाम ही है text formatting। Text formatting के कुछ नियमों के बारे में हमने नीचे बताया है जैसे,

Font size

  • पहले, Text को सेलेक्ट करना होगा।
  • फिर, Home tab के अन्तर्गत font command group के font size में क्लिक करने से font size का एक लिस्ट आयेगा। अब प्रदर्शित लिस्ट से आप font size सेलेक्ट कर सकते है।

Bold

टेक्स्ट को सेलेक्ट करने के बाद, font group के B बटन में प्रेस करने से text bold हो जाएगा।

Italic

टेक्स्ट को सेलेक्ट करके I यानि italic के आइकन पर क्लिक करके से टेक्स्ट को italic कर सकते है।

Underline

टेक्स्ट को सेलेक्ट करके U यानि underline के विकल्प पर क्लिक करने से टेक्स्ट के नीचे underline हो जाएगा।

Font colour

  • टेक्स्ट को सेलेक्ट करके font colour button के drop down arrow में क्लिक करना होगा।
  • Drop down arrow में क्लिक करने से एक colour list आयेगा। अब, प्रदर्शित लिस्ट में से आपको अपने पसंद का colour सेलेक्ट करना होगा। 

ध्यान दे – उपर में बताए गए सभी button के shortcut key के बारे में हमने इस पोस्ट के नीचे shortcut key बिंदु में बताया है।

7) Bullet और Numbering का प्रयोग

  • यदि आप टेक्स्ट को बुलेट या नंबरिंग करना चाहते है तब आपको पहले की तरह ही text को सेलेक्ट कर लेना होगा।
  • फिर, पैराग्राफ कमांड ग्रुप के bullet ऑप्शन में क्लिक करना होगा। यदि, आप numbering एड करना चाहते है तब, आपको पैराग्राफ कमांड ग्रुप के अन्तर्गत numbering ऑप्शन में क्लिक करना होगा। ऐसे आसान तरीके से टेक्स्ट को bullet या फिर numbering फॉर्मेट में तैयार किया जा सकता है। 

Document को एकबार save करने के बाद, उस फाइल में जितना भी परिवर्तन किया गया है, उस परिवर्तन को सेव करने के लिए ऑफिस बटन के save option में क्लिक करना होगा।

उपर में बताया गया सभी नियमों को यदि आप ध्यान से पालन करें तब आप आसानी से एमएस वर्ड पर काम कर सकते है।


MS Word में इस्तेमाल होने वाला Ribbon

इससे पहले इस पोस्ट पर हमने MS Word के Home Screen पर उपलब्ध सभी button और tab के बारे में बर्णना किया है। Ribbon एक tab है जो, एमएस वर्ड के होम स्क्रीन पर हमें देखने को मिलता है। 

MS Word में विभिन्न तरह के Ribbon और उसके अन्तर्गत विभिन्न Command Group रहेता है, जिसका इस्तेमाल करके हम Text  Formatting कर सकते है। इन सभी Ribbon के बारे में हमने नीचे बताया है।

1) Home Ribbon 

Home Ribbon में पांच कमांड ग्रुप है जैसे, Clipboard, Font, Paragraph, Styles, और Editing। 

2) Insert Ribbon 

Insert Ribbon Tab के सात कमांड ग्रुप है जैसे, Pages, Tables, Illustrations, Links, Header और Footer, Text, Symbol। 

3) Page Layout Ribbon

इस रिबन के अन्तर्गत पांच कमांड ग्रुप है Themes, Page Setup, Page Background, Paragraph, और Arrange। 

4) References Ribbon

रेफरेंस रिबन के अन्तर्गत Table of Contents, Footnotes, Citations & Bibliography, Caption, Index, और Table of Authorities अर्थात, कुल मिलाकर छह कमांड ग्रुप है। 

5) Mailings Ribbon

Mail Merge करने के लिए आवश्यक सभी कमांड ग्रुप अर्थात, Create, Start Mail Merge, Write & Insert Fields, Preview Results, Finish आदि कमांड ग्रुप मेलिंग्स रिबन में उपलब्ध रहेता है।

6) Review Ribbon

रिव्यू रिबन के अन्तर्गत हमे सात कमांड ग्रुप देखने को मिलते हे जैसे, Proofing, Language, Comments, Tracking, Changes, Compare, Protect। 

7) View Ribbon

View Ribbon Tab रिबन बार के सबसे अंत में रहेने वाला रिबन है। यहां पांच कमांड ग्रुप रहेता है जैसे, Views, Show, Zoom, Window, और Macros।


MS Word कैसे सीखें

इस पोस्ट के माध्यम से MS Word के उपयोगिता, वर्ड को कैसे चलाएं, इसमें इस्तेमाल होने वाला रिबन सभी के बारे में आपको जानकारी प्राप्त हो गई है। अब सवाल है कि MS Word को कैसे सीखें इसके उत्तर  में बता दें कि एमएस वर्ड को सीखने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन बहूत सारा उपाय उपलब्ध है जैसे – 

  1. Microsoft Help

एमएस वर्ड को सीखने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है Microsoft Help। यह माइक्रोसॉफ्ट का ही एक फ्री सोर्स है, जिसके जरिए यूजर एमएस वर्ड के बारे में वीडियो ट्यूटोरियल के द्वारा सीख सकते है। 

  1. Web Based Tutorial

हम किसी भी विषय में कोई भी जानकारी प्राप्त करने के  लिए गूगल में सर्च करते है। इससे हमें बहूत सारे  website का रिजल्ट मिलता है। जिसके माध्यम से हम जानकारी प्राप्त कर सकते है। 

इसी तरह हम वर्ड के विषय में भी यदि सर्च करें तब हमें बहूत सारे website का रिजल्ट मिलेगा अर्थात, आर्टिकल देखने को मिलेंगे जिसके, सहायता से हम वर्ड को सीख सकते है। 

  1. Video Tutorial

वर्ड को सीखने के सभी ऑनलाइन रिसोर्स में से एक महत्वपूर्ण रिसोर्स है वीडियो ट्यूटोरियल। जिसके, माध्यम से हम आसानी से वर्ड को सीख सकते है। एमएस वर्ड को सीखने के लिए ऑनलाइन में बहूत सारे विडियो ट्यूटोरियल उपलब्ध है। जैसे, Youtube के जरिए फ्री में ही हम वर्ड को सीख सकते है, सिर्फ यही नहीं Udemy, Khan Academy आदि प्लेटफॉर्म भी वीडियो ट्यूटोरियल के माध्यम से हमे वर्ड को सीखने मे मदद करती है।

  1. Book

Offline में बहूत सारा book उपलब्ध है जिसके सहायता से हम word को सीख सकते है। यह सभी किताबें बहूत विश्वशनीय और साथ ही practical based होते है जिस कारण बुक के मदद से भी हम वर्ड को आसानी से सीख सकते है। 

  1. Offline Course

आप यदि चाहें तो कंप्यूटर इंस्टीट्यूट से भी कोर्स करके ms word को सीख सकते है। इसमें ऑफलाइन कोर्स करना ही सबसे उपयोगी है क्योंकि, इससे आप वर्ड को Practically सीख पाएंगे और साथ ही यदि आपको word के विषय में कोई भी डाउट हो तब आप टीचर को प्रत्यक्ष सवाल पूछ सकते है और आपका डाउट क्लियर करके और भी अच्छे से word के विषय ज्ञान प्राप्त कर सकते है।


MS Word से जुड़े Shortcut Keys

  1. Ctrl+C= टेक्स्ट या फिर इमेज को सेलेक्ट करने के बाद, keyboard में Ctrl और C यह दोनों key एक साथ प्रेस करके सेलक्टेड टेक्स्ट को क्लिपबोर्ड में copy किया जाता है।
  1. Ctrl+V= Ctrl और V दोनों key को एक साथ प्रेस करके क्लिपबोर्ड में कॉपी किया हुआ टेक्स्ट या इमेज को paste किया जाता है।
  1. Ctrl+X= अगर आप कोई भी सिलेक्टेड टेक्स्ट को डिलीट करना चाहते है तब आपको Ctrl और X दोनों key को साथ में प्रेस करना होगा इस तरीके से सिलेक्टेड टेक्स्ट आसानी से डिलीट हो जाएगा।
  1. Ctrl+I= Text को सेलेक्ट करने के बाद, Ctrl और I को प्रेस करके टेक्स्ट को Italic font में परिवर्तित किया जा सकता है।
  1. Ctrl+B= टेक्स्ट को सेलेक्ट करके Ctrl और B को प्रेस करके सिलेक्टेड टेक्स्ट को Bold फ़ॉन्ट में परिवर्तित किया जाता है।
  1. Ctrl+U= टेक्स्ट के Underline देने के लिए Ctrl और U को प्रेस करना पड़ता है।
  1. Ctrl+Z= टेक्स्ट में किया हुआ कोई भी परिवर्तन को Undo करने के लिए Ctrl और Z key को प्रेस करना होता है।
  1. Ctrl+Y=Ctrl और Y को प्रेस करने के दौरान Redo किया जाता ।
  1. F7= Text में प्रयोग किया हुआ स्पेलिंग और ग्राम्मर को चैक करने के लिए F7 की को प्रेस करना पड़ता है। 
  1. Ctrl+P= Ctrl और P को प्रेस करके हम कोई भी text या फिर image को print कर सकते है।
  1. Ctrl+S= कोई भी फाइल को पहेली बार सेव करने के बाद उस फाइल में नया कोई तथ्य यदि जुड़ा जाए या फिर तथ्य में कोई परिवर्तन किया जाए तब उसे सेव करने के लिए Ctrl और S को साथ में प्रेस करना पड़ता है।
  1. Ctrl+A= All Select करने के लिए एक साथ Ctrl और A key का इस्तेमाल किया जाता है।
  1. Ctrl+F= डॉक्यूमेंट पर कोई भी शब्द को खोजने के लिए Ctrl और F की को साथ मे प्रेस करना पड़ता है। 
  1. Ctrl+== टेक्स्ट में इस्तेमाल होने वाला कोई भी संख्या या alphabet को subscript करने के लिए Ctrl और = key का इस्तेमाल किया जाता है। 
  1. Ctrl+Shift++= टेक्स्ट को superscript करने के लिए Ctrl, Shift और + की को एक साथ प्रेस करना पड़ता है। जैसे, A², B²।
  1. Ctrl+J= Ctrl और J key को प्रेस करके हम टेक्स्ट की alignment को justify कर सकते है।
  1. Ctrl+R= Alignment को Right करने के लिए Ctrl और R दोनों key को एकसाथ प्रेस करना पड़ता है।
  1. Ctrl+L= Ctrl और L दोनों बटन को साथ में प्रेस करके हम alignment को Left कर सकते।
  1. Ctrl+Home= Ctrl और Home दोनों बटन को प्रेस करके हम पेज के एकदम उपर जा सकते है। 
  1. Ctrl+End= Ctrl और End दोनों बटन को प्रेस करके हम पेज के एकदम नीचे जा सकते है।

MS Word से संबंधित F.A.Q

1) MS Word क्या है?


MS Word एक Word Processing सॉफ्टवेयर है इसके सहायता से हम डॉक्यूमेंट तैयार करके उसे Editing, Formatting कर सकते है।

2) MS Word के File Extension name क्या है?


MS Word का File Extension Name .Docx है।

3) MS के सहायता से हम क्या क्या कर सकते है?


MS Word के सहायता से हम डॉक्यूमेंट क्रिएट कर सकते है, Letter, Application टाइप कर सकते है उसी के साथ
Job के लिए Resume भी तैयार कर सकते है।


सारांश –

इस पोस्ट पर हमने MS Word क्या है, इसके विशेषताएं व उपयोगिता के बारे में पूरे विस्तार में बताया है। हमें उम्मीद है आज के इस ब्लॉग पोस्ट को पढ़कर आप जरूर जान गए होंगे कि MS Word क्या है; इसे कैसे चलाते हैं।

यदि आपके मन में MS Word क्या है इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं और यदि यह पोस्ट आपको पसंद आया है तब आप हमारे ब्लॉग के और भी पोस्ट को पढ़ सकते हैं।

आपके काम के अन्य पोस्ट :-

में LogicalDost.in पर Content Writer हूं। मुझे Banking, Finance और Computer के विषय में पोस्ट लिखना पसंद है और इसी के साथ मुझे Books पढ़ना बहुत अच्छा लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here