YouTube क्या है इसका मालिक कौन है व इसे किसने बनाया

YouTube, एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जिसकी जरूरत आज सभी को है, ये कहना भी गलत नहीं है की धीरे धीरे यूट्यूब टेलीविजन की जगह ले रहा है, अब लोग टीवी पर आने वाले लगभग सभी प्रोग्राम YouTube पर देख सकते है, इतना ही नहीं YouTube भारत मे बहुत से लोगों का फूल टाइम प्रोफेशन भी है। इस ब्लॉग पोस्ट मे आप जानोगे की यूट्यूब क्या है किस देश की कंपनी है इसे किसने बनाया आदि। 

YouTube Ke Bare Me

जब भी मोबाइल मे वीडियो के माध्यम से कुछ देखने या सीखने की बात आती है तो यूट्यूब सभी विडिओ स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म मे सबसे बेहतरीन है, यूट्यूब से घर बैठे बहुत कुछ सीखा जा सकता है, आज कल यूट्यूब पर ऑनलाइन पढ़ने का चलन भी बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है। 

आज से 16 साल पहले YouTube जैसा कुछ भी इस दुनिया मे नहीं था, किसी ने नहीं सोचा था की इंटरनेट पर एक ऐसा प्लेटफॉर्म होगा जिस पर कोई भी व्यक्ति अपने विचार दुनिया के सामने रख सकेगा, या फिर अपनी स्किल लोगों को सिखाकर पैसे कमा पाएगा। 

YouTube क्या है? 

यूट्यूब एक विडिओ शेयरिंग प्लेटफॉर्म है जिसकी शुरुआत फरवरी 2005 मे हुई थी, YouTube पर कोई भी व्यक्ति विडिओ अपलोड कर सकता है किसी विडिओ को लाइक व डिसलाइक करके उसे रेटिंग दे सकता है इसके अलावा उस विडिओ के बारे मे अपने विचार विडिओ के कमेन्ट बॉक्स मे लिख सकता है। 

अब विडिओ शेयरिंग के लिए यूट्यूब का इस्तेमाल छोटी बड़ी सभी Organization कर रही है, सभी बड़े न्यूज़ चैनल भी YouTube पर अपना प्रोग्राम लाइव चलाते है, यूट्यूब पर सभी प्रकार का कंटेन्ट देखने को मिलता है। किसी यूज़र को किस तरह की विडिओ उसके फ़ीड मे दिखानी है इसके लिए YouTube मशीनी दिमाग का इस्तेमाल करता है। 

TechCrunch की रिपोर्ट के अनुसार भारत मे YouTube के 325 मिलियन (32.5 करोड़) ऐक्टिव यूज़र है, इसके अलावा पूरी दुनिया की बात की जाये तो ये आंकड़ा 200 करोड़ के आस पास आता है। सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले देश चीन मे YouTube पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। 

Alexa Internet के अनुसार YouTube दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी वेबसाइट है जिसे सबसे ज्यादा लोग विज़िट करते है, पहला नंबर गूगल का है। यूट्यूब पर हर मिनट में 500 घंटों की विडिओ अपलोड की जा रही है, पिछले साल यूट्यूब ने 15 बिलियन अमेरिकी डॉलर की कमाई की थी। 


यूट्यूब किसने बनाया (Founder)

YouTube Founders
लेफ्ट टू राइट : चाड हरली, स्टीव चेन, जावेद करीम

YouTube का अविष्कार स्टीव चेन, चाड हरलीजावेद करीम ने 14 फरवरी 2005 मे किया, ये तीनों PayPal के पुराने कर्मचारी थे, यूट्यूब के बनने की कहानी भी बड़ी रोचक है ये बात 2004 की है जब करीम इंटरनेट पर कुछ घटनाओ की विडिओ देखने के लिए सर्च कर रहे थे पर उन्हे कही भी वो क्लिप नहीं मिली तभी करीम मे सोचा की क्यू ना ऐसा प्लेटफॉर्म हो जहा हर कोई विडिओ अपलोड कर पाए और पूरी दुनिया मे उसे कही से भी देखा जा सके।

अब तक जावेद करीम के मन मे इस तरह की वेबसाइट बनाने का सिर्फ आइडिया था, YouTube के अन्य दो संस्थापक बताते है की YouTube की शुरुआत पहले एक डेटिंग वेबसाइट के रूप मे हुई थी जहा लड़के व लड़किया अपना विडिओ बनाकर अपलोड कर सकते थे, ये आइडिया भी उनके शुरुआती फैसबुक Hot or Not से आया था। 

लेकिन विडिओ डेटिंग वेबसाइट पूरी तरह से फ़्लॉप रही बाद मे इसे जावेद करीम के आइडिया को इस्तेमाल किया गया और YouTube को एक विडिओ शेयरिंग प्लेटफॉर्म बनाया गया जहा यूजर विडिओ देखने के साथ साथ अपलोड भी कर सकते थे। 

शुरुआती दिनों मे लोग केवल नॉर्मल हंसी मजाक के विडिओ अपलोड कर रहे थे लेकिन ये सभी लोगों के लिए नया था इसलिए सभी इसे इस्तेमाल करने के लिए उत्सुक थे धीरे धीरे अन्य तरह का कंटेन्ट जैसे की म्यूजिक, कॉमेडी आदि भी यूट्यूब पर अपलोड होने लगा और YouTube उस समय की दुनिया की सबसे ज्यादा तेजी से आगे बढ़ने वाली वेबसाइट बन गई। 

2006 आते आते यूट्यूब पर हर रोज 65,000 नई विडिओ अपलोड हो रही थी व 100 मिलियन व्यू हर रोज आ रहे थे, इसी साल YouTube को कई नामी कंपनीयो से फन्डिंग भी मिली थी। इतने लोगों के विडिओ देखने व अपलोड करने के लिए एक बहुत बड़ा सर्वर चाहिए था और फाउन्डर का बहुत ज्यादा पैसा इसमे खर्च हो जाता था इसी के साथ YouTube पर बहुत सारे कॉपीराइट नियमों को तोड़ने के केस भी दर्ज हुए। 


YouTube का मालिक कौन है? 

YouTube दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी वेबसाइट का मालिक Google है, गूगल ने यूट्यूब को 13 नवंबर 2006 को 1.65 बिलियन अमेरिकी डॉलर मे खरीद लिया था जिसके बाद YouTube पर होने वाली सभी गतिविधियाँ गूगल के अंडर आने लगी। गूगल द्वारा यूट्यूब को खरीदना उस समय तक की गूगल की सबसे बड़ी डील थी। 

बड़ी कंपनीया अक्सर नई टेक्नॉलजी या तेजी से बढ़ते हुए प्लेटफॉर्म को खरीद लेती है और ऐसा हमे Facebook के केस मे भी देखने को मिलता है, WhatsAppInstagram फेसबुक द्वारा खरीदे गए थे। 

किसी कंपनी या प्लेटफॉर्म का मालिक वो होता है जो उसे खरीद लेता है या उसके पास कंपनी का प्लेटफॉर्म के शेयर होते है, हो सकता है मालिक 1-2 बार बदले भी लेकिन उसे बनाने वाला या उसकी खोज करने वाला कभी नहीं बदलता और इसलिए स्टीव चेन, चाड हरली व जावेद करीम का नाम YouTube के संस्थापक के तोर पर लिया जाता है। 


YouTube किस देश की कंपनी है?

यूट्यूब अमेरिका का ऑनलाइन विडिओ शेरिंग प्लेटफॉर्म है जिसका मुख्यालय San Bruno कैलिफ़ोर्निया अमेरिका मे है, YouTube का स्वामित्व गूगल के पास है, 2006 मे गूगल ने इसे 1.65 बिलियन अमेरिकी डॉलर मे खरीद लिया था। आज यूट्यूब चाइना को छोड़कर सभी देशों मे अपनी सेवा दे रही है। 

YouTube एक ओपन प्लेटफॉर्म है मतलब की कोई भी व्यक्ति इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर सकता है और यदि वह सभी कन्डिशन व गाइड्लाइन का पालन करता है तो यूट्यूब से पैसे भी कमा सकता है, भारत मे बहुत से लोग है जिनका जीवन केवल YouTube पर निर्भर है। 

YouTube अपने क्रीऐटर के लिए हर साल बड़े शहरों मे ईवेंट करवाती है जिसे फन फेस्ट के नाम से जाना जाता है जिसमे सभी बड़े यूट्यूबर को बुलाया जाता है इस ईवेंट मे बहुत बड़ी संख्या मे लोग आते है। इसके अलावा यूट्यूब स्पेस जैसी सेवाए भी क्रीऐटर के लिए उपलब्ध कारवाई जाती है जहा वो अच्छे से विडिओ रिकार्ड करना सीखते है।


YouTube का सीईओ कौन है? 

YouTube की सीईओ Susan Wojcicki है इन्हे 5 फरवरी 2014 मे यूट्यूब की सीईओ बनाया गया था, गूगल की स्थापना के समय भी ये गूगल के साथ काम कर रही थी, सुज़ेन का जन्म कैलिफ़ोर्निया मे 5 जुलाई 1968 को हुआ आज इनकी नेट वर्थ कुछ 580 मिलियन अमेरिकी डॉलर है। 


यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए जाते है? 

भारत व विश्व में हजारों लोग YouTube से हर महीने लाखों रुपए कमाते है, यूट्यूब बहुत से लोगों का फूल टाइम प्रोफेशन भी है, यूट्यूब से पैसे कमाने के लिए  यूट्यूब पर आपको किसी टॉपिक के बारे मे विडिओ बनानी होती है, आप किसी भी तरह की विडिओ बना सकते है, 1000 subcribers व 4000 मिनट का वाच टाइम होने पर YouTube टीम आपके चैनल को रिव्यू करती है। 

YouTube पर गूगल ऐड दिखाता है जिसके पैसे आप को मिलते है, अब जीतने ज्यादा लोग आपकी विडिओ को देखेंगे उतने ही ज्यादा ऐड आपकी विडिओ पर आएँगे और उतनी ही ज्यादा कमाई आप करोगे। इसके अलावा पैड sponsorship व किसी प्रोडक्ट का रिव्यू करके भी कुछ पैसे कमाए जा सकते है। 

किसी भी प्लेटफॉर्म पर लाइक करने या Subscribe करने के पैसे नहीं मिलते पैसे केवल ऐड के मिलते है, किसी विडिओ को लाइक करने या चैनल को Subscribe करने के उस विडिओ पर ज्यादा व्यू आने के अवसर मिलते है जिससे ज्यादा कमाई भी होती है। 


YouTube पर पहला विडिओ कोसना है?

यूट्यूब पर सबसे पहला विडिओ यूट्यूब के सह-संस्थापक जावेद करीम द्वारा 23 अप्रैल 2005 मे डाला गया था जिसमे वो एक जू मे होते है, ये एक 18 सेकंड का विडिओ है जिसका टाइटल है Me at the zoo है इस विडिओ को अब तक 14 करोड़ से ज्यादा बार देखा जा चुका है व 60 लाख से ज्यादा लाइक मिल चुके है।


सारांश

यहा आपने यूट्यूब के बारे मे सभी जरूरी बाते जैसे की यूट्यूब का मालिक कौन है इसे किसने बनाया, इसकी स्थापना किसने की आदि के बारे मे जाना उम्मीद है सभी बाते आपको आसानी से समझ आई हो। YouTube इंटरनेट पर कुछ नया सीखने के लिए काफी अच्छा प्लेटफॉर्म है। 

आपके काम की अन्य पोस्ट:-

मुझे इंटरनेट टेक्नोलॉजी के बारे में जानने और इसे लोगो के साथ शेयर करना अच्छा लगता है, मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हु। इसके अलावा मुझे अच्छी किताबें पढ़ने और लोगों को ऑब्ज़र्व करना भी अच्छा लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here