Micromax कहा की कंपनी है इसका मालिक कौन है इतिहास

Micromax के फोन 2015 के आस पास बहुत इस्तेमाल होते थे हो सकता है आपने भी अपने जीवन मे कोई माइक्रोमैक्स का फोन यूज किया हो या फिर बचपन मे अपने पेरेंट्स के पास देखा हो। माइक्रोमैक्स से संबंधित बहुत से सवाल आपको इस ब्लॉग पोस्ट मे बताये गए है जैसे की Micromax कहा की कंपनी है, इसका मालिक कौन है और इसका इतिहास। 

आज इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बनाने वाली बहुत सारी कंपनियां है जैसे कि Samsung, Apple, Realme, Xiaomi, Oppo आदि पर इन सभी कंपनियों मे हमारे भारत देश की कंपनी बहुत ही कम है या फिर यू कहो की कुछ 1-2 ही है। 

दुनिया की सभी बड़ी कंपनियां भारत मे अपना व्यापार करना चाहती है क्योंकि हमारा देश चाइना के बाद जनसंख्या मे दूसरा सबसे बड़ा देश है और कोई भी बड़ी कंपनी इतने बड़े मार्केट मे आने से खुद को रोक नहीं सकती।

Micromax कहा की कंपनी है?

माइक्रोमैक्स एक भारतीय स्मार्टफोन व कन्सूमर इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरर कंपनी है जिसका मुख्यालय गुरुग्राम हरियाणा मे है, 2010 तक माइक्रोमैक्स भारत की सबसे बड़ी फीचर फोन बनाने वाली कंपनी थी इसके अलावा 2014 मे दुनिया की 10वी सबसे बड़ी स्मार्टफोन कंपनी की लिस्ट मे भी इसका नाम शामिल किया गया था। 

Micromax कंपनी की स्थापना 29 मार्च 2000 मे राहुल शर्मा, राजेश अग्रवाल, विकास जैन और सुमित कुमार द्वारा की गई थी, अपने शुरुआती दिनों मे ये कंपनी एक सॉफ्टवेयर कंपनी थी और इसे Micromax Software के नाम से रजिस्टर करवाया गया था, इसके बाद 2008 मे राहुल शर्मा ने कंपनी को कन्सूमर इलेक्ट्रॉनिक्स बनाने वाली कंपनी मे बदल दिया जिसके बाद माइक्रोमैक्स ने बहुत की कम समय मे काफी तरक्की की। 

2015 तक माइक्रोमैक्स ने बहुत तरक्की की लेकिन इसके बाद साल 2016 से कंपनी की कमाई मे बहुत फरक पड़ा, उस समय कंपनी का फोकस कीपैड फोन पर ज्यादा था और बहुत कम लोग ही स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते थे हालांकि 3G इंटरनेट ने उस समय भारत मे कदम रख दिया था। 


Micromax Company का मालिक कौन है? 

माइक्रोमैक्स कंपनी को 29 मार्च 2000 मे चार दोस्तों राजेश अग्रवाल, राहुल शर्मा, विकास कुमार और सुमित कुमार द्वारा शुरू किया गया था, माइक्रोमैक्स कंपनी के CEO राहुल शर्मा है और अब कंपनी को पूरी तरह से यही संभालते है। 

Micromax कंपनी के अन्य co-founder आज अलग अलग कंपनियों मे काम करते है, राहुल शर्मा का एक दूसरा startup भी है जिसे Revolt Motors का नाम दिया गया था, ये Company इलेक्ट्रिक बाइक बनाती है अभी कुछ ही दिनों (अगस्त 2019) पहले इन्होंने भारत की सबसे पहली AI आधारित इलेक्ट्रिक बाइक RV400 लॉन्च की थी। 


क्या Micromax एक चीनी कंपनी है? 

माइक्रोमैक्स एक भारतीय कंपनी है जिसे राहुल शर्मा व इनके दोस्तों द्वारा सन 2000 मे बनाया गया था, अपने शुरुआती दिनों मे कंपनी अपने ज़्यादकर फोन चाइना से ही मंगवाती थी क्योंकि उस समय कहीं और से मंगवाने या भारत मे फोन बनाने का ऑप्शन उपलब्ध नहीं था।

आज कंपनी एक स्मार्टफोन के ज़्यादकर कॉमपोनेन्ट भारत मे ही बनाती है, हालांकि आज भी ये पूरी तरह से संभव नहीं हो पाया की भारत मे बनने वाले स्मार्टफोन के सभी पार्ट्स भारत मे ही बने। उम्मीद है जल्द ही भारत मे अच्छे स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरर प्लांट लगाए जाएंगे और भारत के लोगों को पूरी तरह से मैड इन इंडिया फोन उपलब्ध करवाया जाएगा। 


Micromax का इतिहास

माइक्रोमैक्स कंपनी की शुरुआत साल 2000 मे एक सॉफ्टवेयर कंपनी से हुई थी बाद मे राहुल शर्मा व इनकी टीम ने एक ऐसी घटना देखी जिसके बाद कंपनी पूरी तरह से बदल गई, उस घटना मे एक पब्लिक कॉल ऑफिस (PCO) को एक ट्रक की बैटरी से बिजली दी जा रही थी क्योंकि उस समय ग्रामीण इलाकों मे लाइट का कई कई दिनों तक ना आना एक आम बात थी। 

इसी समस्या को देखते हुए माइक्रोमैक्स ने अपना पहला फोन X1i लांच किया जिसमे 1 महीने का बैटरी बैकअप मिलता था, ये फोन ग्रामीण इलाकों मे रहने वालों के लिए किसी चमत्कार से कम नहीं था अब कॉल करने के लिए उन्हे PCO पर निर्भर नहीं रहना पड़ता था इसके अलावा फोन मे कुछ अन्य काम के फीचर जैसे की टौर्च, FM आदि भी थे। 

Micromax ने इसके बाद बहुत तरह के कीपैड फोन लॉन्च किए और 2014 की तिमाही मे फोन की बिक्री के मामले मे Samsung को भी पीछे छोड़ दिया। 

अब समय बदल रहा था और लोगों ने इंटरनेट इस्तेमाल करना शुरू कर दिया, 2015 तक 3G आ चुका था, माइक्रोमैक्स के भी कई अच्छे  3G स्मार्टफोन थे जिन्हे ग्राहकों द्वारा काफी पसंद किया गया था।  2015 तक Micromax ने खूब तरक्की की लेकिन इसके बाद के साल इसके लिए बिल्कुल अच्छे नहीं रहे। 

2016 मे Reliance Jio ने 4G के साथ टेलीकॉम इंडस्ट्री मे कदम रखा जिसमे ग्राहकों को 4G इंटरनेट फ्री मिलता था, इस समय तक 3G इंटरनेट भी बहुत महंगा हुआ करता था और लोग केवल चैटिंग करने का किसी जरूरी काम के लिए ही इंटरनेट का इस्तेमाल करते थे। 

4G के आ जाने से लोग अब 4G फोन ही खरीदना चाहते थे, इसी के चलते चाइनीज ब्रांड जैसे की Oppo, Vivo, Xiaomi आदि की एंट्री हुई, इन ब्रांड के पास 4G तकनीक पहले से ही थी इस वजह से इन्हे भारत के मार्केट मे अपने 4g फोन लॉन्च करने मे बहुत ही कम समय लगा, इसके अलावा इनके फोन की कीमत भी काफी कम होती थी जिसकी वजह से लोग अब माइक्रोमैक्स के फोन नहीं खरीद रहे थे। 

2015 से 2020 का समय माइक्रोमैक्स के लिए अच्छे नहीं रहे लेकिन इसके बाद 2020 मे Rahul Sharma ने अगस्त 2020 मे एक ट्वीट करके बताया की हम वापिस आ रहे है, जिसके बाद 3 नवंबर 2020 को माइक्रोमैक्स मे 2 स्मार्टफोन IN Note 1 व IN 1b लॉन्च किए। 


सारांश 

इस ब्लॉग पोस्ट मे आपने जाना की Micromax भारत देश की कंपनी है जिसे राहुल शर्मा व इनके दोस्तों द्वारा मार्च 2000 मे बनाया गया था। माइक्रोमैक्स का इतिहास भी रोचक रहा है क्योंकि एक समय मे ये देश की सबसे बड़ी फोन बनाने वाली कंपनी थी जिसके बाद कुछ सालों के लिए इसका मात्र नाम रह गया था लेकिन 2020 मे ये वापिस आयी ओर अच्छे प्रोडक्टस लॉन्च किए और लोगों द्वारा पसंद भी की गई। 

आपके काम की अन्य पोस्ट:-

मुझे इंटरनेट टेक्नोलॉजी के बारे में जानने और इसे लोगो के साथ शेयर करना अच्छा लगता है, मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हु। इसके अलावा मुझे अच्छी किताबें पढ़ने और लोगों को ऑब्ज़र्व करना भी अच्छा लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here